योगी सरकार ने पांच सालों के कार्यकाल में सबको सुरक्षा सबको सम्‍मान दिया: महाराज

योगी सरकार ने पांच सालों के कार्यकाल में सबको सुरक्षा सबको सम्‍मान दिया: महाराज
Spread the love

देहरादून/लखनऊ। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने शनिवार को लखनऊ पूर्वी विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री, आशुतोष टंडन के समर्थन में एक चुनावी सभा को संबोधित किया।

प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने शनिवार को लखनऊ के गोमती नगर स्थित पत्रकार पुरम चौराहे पर लखनऊ पूर्वी विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री, आशुतोष टंडन के समर्थन में एक चुनावी सभा को संबोधित किया।
इस मौके पर बोलते हुए सतपाल महाराज ने कहा कि बीजेपी सरकार ने आस्‍था का सम्‍मान भी किया और सुरक्षा का भी पूरा ध्‍यान रखा। सपा सरकार में सैफई महोत्‍सव होता था पर योगी सरकार में छठ मइया की पूजा, मथुरा वृंदावन में रंगोत्‍सव, देव दीपावली, कुंभ जैसे भव्‍य आयोजन होते हैं।

उन्‍होंने सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि करहल में भी सपा की जमानत जनता जब्‍त करने जा रही है। बीजेपी ने अपने पांच सालों के कार्यकाल में सबको सुरक्षा सबको सम्‍मान दिया पर तुष्किरण किसी का नहीं होने दिया। हमने जो कहा वो किया, साल 2017 में हमने कहा था कि रामलला हम आएंगे मंदिर वहीं बनाएंगे। अयोध्‍या में भव्‍य श्रीराम मंदिर बन रहा है। 500 सालों की पूर्वजों की कामनाएं पूरी होंगी जब राममंदिर में साल 2023 में राम जी विराजमान होंगे। श्री महाराज ने कहा कि पहले की सरकारों में गरीब कल्‍याणकारी योजनाओं में लूट मचती थी। बिजली की कटौती होती थी पर अब उत्तर प्रदेश में बिना कटौती 24 घंटे बिजली, फ्री में राशन, आवास जैसी सुविधाएं मिल रहीं हैं।

उन्होंने पूर्वी लखनऊ विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी आशुतोष टंडन के लिए जनता से वोट देने की अपील करते हुए कहा कि सभी लोग कमल के फूल का बटन दबाकर योगी और मोदी जी के हाथों को मजबूत करें ताकि उत्तर प्रदेश में जो विकास कार्य योगी सरकार एक कार्यकारिणी चल रहे हैं वह निर्विघ्न संपन्न हो सके और प्रदेश से गुंडे और माफियाओं का पूरी तरीके से सफाया हो सके। इस अवसर पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अपने विचार रखे।

The Digital Uttarakhand

Leave a Reply

Your email address will not be published.